शनिवार, 5 जून 2010

विश्‍व पर्यावरण दिवस पर … वृक्ष हमारे जीवन संगी

वृक्ष हमारे जीवन संगी

-आचार्य परशुराम राय

 

PH01239K 

वृक्षों के बिन प्रकृति अधूरी,

बिन वृक्षों के धरती नंगी।

वृक्ष हमारी जीवन साँसें, 

वृक्ष हमारे जीवन संगी।।

वरद हस्त हैं शाखें इनकी,

धारें मिट्टी पाँव तले।

ज्ञान ने खोलीं अपनी पलकें,

इनकी शीतल छाँव तले।।

J0145212अर्थ-तंत्र की नींव वृक्ष हैं,

जीव जगत के आश्रय दाता।

ये उपास्य हैं देव हमारे

और हमारे मंगल दाता।।

जीवन ने पहली अँगड़ाई, 

ली थी इनकी ही साँसों में।

पहली मुस्कान चेतना की

खेली थी इनकी बाँहों में।।

स्वत्वजंगल काटकर जीने का,

बड़ा कुटिल अरमान तुम्हारा।

वृक्ष विहीन कल्पना का,  

कैसा होगा संसार हमारा।।

करते-रहते ये अभयंकर, 

प्रतिदिन ऊर्जा के स्त्रोत सृजन।

रोका न गया इनका विनाश,

तो प्रकृति करेगी प्रलय सृजन।।

17 टिप्‍पणियां:

  1. दिवस विशेष पर सार्थक रचना. बधाई.

    उत्तर देंहटाएं
  2. वृक्ष अमूल्य धरोहर हैं,
    इनकी रक्षा करना होगा।
    जीवन जीने की खातिर,
    वन को जीवित रखना होगा।

    तनिक-क्षणिक लालच को,
    अपने मन से दूर भगाना है।
    धरती का सौन्दर्य धरा पर,
    हमको वापिस लाना है।।

    उत्तर देंहटाएं
  3. sarthak rachana ek sandeshdetee v prakrutik uplabdhiyo par roshanee daltee rachana achee lagee.

    उत्तर देंहटाएं
  4. विश्‍व पर्यावरण दिवस पर समर्पित यह पोस्ट अत्यंत उपयोगी, सार्थक और संदेश देती है।

    उत्तर देंहटाएं
  5. वृक्ष हमारी जीवन साँसें, वृक्ष हमारे जीवन संगी|
    वृक्ष अमूल्य धरोहर हैं, हमे हर हाल में इनकी रक्षा करनी चाहिए।

    उत्तर देंहटाएं
  6. ...बहुत सुन्दर .... लाजवाब !!!

    उत्तर देंहटाएं
  7. वृक्षों के बिन प्रकृति अधूरी,

    बिन वृक्षों के धरती नंगी।

    वृक्ष हमारी जीवन साँसें,

    वृक्ष हमारे जीवन संगी।।

    विश्‍व पर्यावरण दिवस पर समर्पित उपयोगी संदेश !

    उत्तर देंहटाएं
  8. hindu granthon me ek ped ko das putron ke barabar mana gaya hai.
    sundar rachna hai.

    उत्तर देंहटाएं
  9. आईये जानें .... मैं कौन हूं!

    आचार्य जी

    उत्तर देंहटाएं
  10. आज के दिन बहुत सार्थक रचना ...

    उत्तर देंहटाएं
  11. Ghar-ghar me plastic ke paudhe dikhenge...! Chhaya na den to kya hua ! Aadmi apne swarth ke liye kuchh bhi kar sakta hai!

    उत्तर देंहटाएं
  12. सार्थक रचना।
    उपयोगी संदेश।
    उतम अभिव्यक्ति।
    लाजवाब शब्द चयन।

    उत्तर देंहटाएं
  13. बहुत अच्छी प्रस्तुति।
    इसे 06.06.10 की चर्चा मंच (सुबह 06 बजे) में शामिल किया गया है।
    http://charchamanch.blogspot.com/

    उत्तर देंहटाएं

आपका मूल्यांकन – हमारा पथ-प्रदर्शक होंगा।